proinfo24

इंट्राडे ट्रेडिंग क्या है? Intraday Trading Kya Hai

Intraday Trading Kya Hai

शेयर बाज़ार में इतना पैसा है कि यह पूरी दुनिया की भूख मिटा सकता है। ये डायलॉग हर्षद मेहता ने कहा था लेकिन ये कोई डायलॉग नहीं है ये शेयर मार्केट की सच्ची कहानी है. शेयर बाज़ार में इतना पैसा है कि आप कल्पना भी नहीं कर सकते और लाखों लोग इससे पैसा कमाकर अपना जीवन व्यतीत कर रहे हैं। तो आज इस आर्टिकल में हम शेयर मार्केट में जिस तरीके से ज्यादातर लोग पैसा कमाते हैं, जिसे इंट्राडे ट्रेडिंग कहते हैं, उसके बारे में जानकारी देखेंगे।

इंट्राडे ट्रेडिंग क्या है? Intraday Trading Kya Hai

एक दिन के भीतर यानी शेयर बाजार खुलने और बंद होने के बीच की गई ट्रेडिंग को Intraday Trading कहा जाता है।

इंट्राडे ट्रेडिंग में किसी कंपनी के शेयर एक दिन के अंदर खरीदने या बेचने होते हैं। इंट्राडे ट्रेडिंग में आप पहले शेयर बेच भी सकते हैं, जैसे अगर आपको लगता है कि किसी शेयर की कीमत कुछ समय बाद कम होने वाली है तो आप उस शेयर को बेच सकते हैं और जब उस शेयर की कीमत कम हो जाए तो आप उस बेचे हुए शेयर को खरीदकर अपना मुनाफा कमा सकते हैं।

यदि कोई शेयरधारक इंट्राडे में शेयर खरीदता है लेकिन बाजार बंद होने से पहले उसे नहीं बेचता है, तो आपका ब्रोकर यानी कि जिस ऐप से आपने शेयर खरीदा है वह एप बाजार बंद होने से कुछ मिनट पहले स्वचालित रूप से शेयर बेच देता है।

शेयर की कीमत एक दिन में ज्यादातर ऊपर या नीचे नहीं होती, इसलिए ट्रेडर का मुनाफा कम होता है। इसलिए ब्रोकर इंट्राडे ट्रेडिंग करने वाले लोगों को कुछ मार्जिन देता है, जिससे वे अधिक शेयर खरीद सकते हैं, जिससे अधिक मुनाफा होता है, यदि आप उस मार्जिन का उपयोग करते शेयर खरीदने है उस शेअर पर आपको नुकसान होता है तो हमें नुकसान की भरपाई करनी पड़ती है।

Conclusion

किसी कंपनी के शेयरों को एक दिन के अंदर खरीदकर बेचना होता है या बेचकर खरीदना होता है। उसे Intraday Trading कहा जाता है।

Exit mobile version